Monthly Archive: December 2010

कुछ रिश्ते अनाम होते है……………वही ”आम ” होते है

कुछ रिश्ते अनाम होते है……………वही ”आम ” होते है

हां …कुछ रिश्ते अनाम होते हैजो ना दो नाम तो वहीवही बदनाम होते हैजो लबो से बोल दोवही ”आम ” होते है ”आँख” और ”आंसू” भी एक रिश्ता है यूँ तो देखो तो पानी...